कोरबा : कोल माइंस में फिर गई एक युवक की जान, इंडस्‍ट्रीयल सेफ्टी की पोल खूली

0
388
By मनोज यादव
कोरबा । देर रात्रि कुसमुंडा खदान में लगभग 2:30 बजे कोयला परिवहन कार्य मे लगी एसएससी सिद्धि विनायक कम्पनी का चालक डंपिंग साइट पर हादसे का शिकार हुआ और उसकी मौत हो गई।
यह घटना तब हुई जब वह कोयले को डम्प कर रहा था। इस दौरान उसी कम्पनी के एक और वाहन बीच सड़क पर ब्रेक डॉउन हालत में खड़ी थी, जिस पर ट्रक जा घुसा। इस हादसे में चालक विजय भगत स्‍टीयरिंग में ही फंसा रहा।
दूसरे वाहन चालकों ने उसे घंटों कवायद के बाद निकाल तो लिया, लेकिन तब तक हादसे का शिकार चालक विजय कुमार दम तोड़ चुका था। इस हादसे में विजय के सीने, पैर और सिर पर गम्भीर चोटें आईं थीं।
चश्‍मदीदों की मानें, तो उस समय वह बात कर रहा था,परन्तु उसे निकालने की तमाम कोशिशों के बाद भी जिंदगी हार गई और मौत जीत गई। लगभग 2 घण्टे तक वह उसी हालत में फंसा रहा।
5 बजे के आसपास उसे विकास नगर एसईसीएल हॉस्पिटल लाया गया, जहां डॉक्‍टरों ने उसे मत घोषित कर दिया।
मृतक का नाम विजय भगत (लगभग 26 वर्ष) ग्राम नेवर टोली जिला जशपुर का रहने वाला था और विगत 2 वर्षों से इस कम्पनी में ड्राइवर के पद पर कार्यरत था। मृतक के परिजन हॉस्पिटल पहुँच गए थे।
मौके पर कुसमुंडा पुलिस भी थी। इस हादसे ने एक बार फिर खदान सुरक्षा की पोल खोल दी हैं। दुर्घटनाएं चीख-चीख कर वास्तविकता को बयां रही हैं। कुछ दिन पहले भी खदान के अंदर ही कुछ दिन पूर्व बीजीआर कम्पनी के सुपरवाइजर की मौत हुई, जिसे लोग अभी भूल भी नही पाए हैं और यह दुःखद हादसा फिर हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.