बदहाल सड़क: कीचड़ में बैठकर किया प्रदर्शन, ठेकेदार को भी बैठाए रखा

0
279
By पुनेश यादव
कांकेर। छत्‍तीसगढ़ जनता कांग्रेस के ने 23 अगस्त को संबलपुर रोड में रेलवे क्रासिंग के पास बनी डायवर्सन सड़क की मरम्मत को लेकर दोबारा चक्काजाम किया। प्रशासन की ओर से एक सप्ताह के अंदर सड़क के मरम्मत के आश्‍वासन के बाद चक्का जाम समाप्त किया गया।
कालेज के छात्र छात्राएं उसी रास्ते से रोजाना कालेज आना-जाना करते हैं। कीचड़ होने के कारण उन्हें चलने तथा आने-जाने में बेहद परेशानी उठानी पड़ती है। परेशान छात्र-छात्राओं ने भी चक्काजाम में अपना समर्थन दिया।
इसी तरह नजदीक के ग्राम कराठी के सरपंच चेतन मरकाम ग्रामीणों के साथ समर्थन देने पहूँचे। ग्राम पंचायत संबलपुर के वरिष्‍ठ नागरिक डाकवर मिश्रा तथा भानुप्रतापपुर के संजय बेलसरिया भी अपने साथियों के साथ मौजूद रहे।

इस दौरान मानक दरपटटी ने एसडीएम से कहा, अगर एक सप्ताह के अंदर जर्जर सड़क की मरम्मत नहीं होती है, तो हम इस बार एसडीएम कार्यालय का घेराव करेंगे। मौके पर ठेकेदार भी पहुंचे थे, उन्हें भी छजकां कार्यकर्ताओं ने अपने साथ कीचड़ पर बैठाए रखा।
गौरतलब है कि छजकां ने संबलपुर मार्ग पर रेलवे ओवरब्रिज के पास बनी डायवर्सन सड़क बेहद खराब होने के कारण 25 जुलाई को चक्का जाम किया था। जिसके बाद ठेकेदार ने 8 दिन के अंदर डायवर्सन सडक को मरम्मत करने का लिखित वादा दिया था, लेकिन लगभग एक माह होने को है।
अभी तक ठेकेदार के द्वारा सड़क का मरम्मत नहीं करवाया गया है। जिसके कारण छजकां के द्वारा 23 अगस्त को मानक दरपटटी के नेतृत्व में दोबारा कीचड़ में बैठकर चक्काजाम किया। मौके पर एसडीएम प्रेमलता मंडावी,  एसडीओपी अमोलक सिंह ढिल्लो,  तहसीलदार आनंद नेताम,  नायब तहसीलदार मोक्षदा देवागंन,  थाना प्रभारी जीएस ठाकुर,  एसआई ललित नेगी ने  कार्यकर्ताओं को एक सप्ताह के अंदर जर्जर सड़क की मरम्मत कराने की आश्वासन दिया, जिसके बाद चक्काजाम समाप्त हुआ।
चक्‍काजाम में जितेंद्र बेंजामिन,  विजय धामेचा,  किशन सोनी, तुषार ठाकुर,  विक्की पांडे,  आकाश सोलंकी,  पंकज जैन,  सरला यादव,  सीमा सेनगुप्ता,  सुरज मोटवानी,  अमित पांडे,  रोशन सचदेव,  विनय ठाकुर,  दिनेश कल्लो,  लक्की साहू,  माखन यादव, हिमांशु मेश्राम,  गौरव बघेल आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.