शिक्षाकर्मी अब नही खींचेंगे मूत्रालयों की फोटो, कलेक्टर ने दिया आदेश

0
42

धमतरी. मूत्रालयों की तस्वीरें खींचने को लेकर मच आदेश से मचे बवाल के बाद धमतरी कलेक्टर सी.आर. प्रसन्ना ने इस आदेश को निरस्त कर दिया गया है.

इससे पहले कल मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत धमतरी से जारी आदेश कहा गया था कि शिक्षाकर्मी मूत्रालयों के उपयोग का निरीक्षण करें और इस्तेमाल करती हुई तस्वीरें WhatsApp ग्रुप में भेजें.

धमतरीे कलेक्टर सी.आर. प्रसन्ना ने मामले को बहुत गंभीरता से लेते हुए इस आदेश को निरस्त कर दिया है. कलेक्टर प्रसन्ना ने The Voices से बातचीत में कहा कि इस आदेश में अब संशोधन किया जा रहा है. टॉयलेट्स का निरीक्षण तो होगा लेकिन ऐसी तस्वीरें नहीं ली जाएंगी. जल्द ही संशोधित ऑर्डर भी जारी किया जाएगा. उन्होंने कहा कि शिक्षा कर्मियों ने इस आदेश को गलत समझ लिया और गलतफहमी की वजह से ही सारा बखेड़ा खड़ा हुआ.

उधर जिला पंचायत के सीईओ ने भी आदेश को निरस्त कर नई आर्डर कॉपी जारी की है जिसमें यह बात लिखी गई है कि पुराने आदेश को निरस्त किया जाता है.
गौरतलब है कि कल ही धमतरी जिला पंचायत के सीईओ जगदीश सोनकर ने यह आदेश जारी किया था कि मूत्रालयों के इस्तेमाल का निरीक्षण सभी टीचर्स को करना है और शौचालयों की तस्वीर लेकर whatsapp पर शेयर करना है.

इसके बाद से ही टीचर्स ने इस बात का विरोध शुरू कर दिया था कि हम आखिर ऐसा काम क्यों करें शिक्षाकर्मी नेता भी इस विरोध में कूद पड़े थे और लगातार इसका विरोध किया जा रहा था.

यह है नए ऑर्डर की कॉपी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.