पुलिस अब आवारा मवेशियों को भी खदेड़ेगी, सीएसपी-डीएसपी भी करेंगे यह काम

0
489
By मनोज यादव
कोरबा । कोरबा जिले की पुलिस अब सड़कों पर बैठे आवारा मवेशियों को खदेड़ने का काम भी करेगी। आरक्षक से लेकर सीएसपी-डीएसपी स्‍तर के राजपतित अधिकारी भी यह काम करेंगे। यह पहल कोरबा के एसपी मयंक श्रीवास्‍तव ने की है, ताकि हादसे न हों और लोगों की जान न जाए।
जिले में बढ़ रहे सड़क हादसों पर अंकुश लगाने जिला प्रशासन और पुलिस द्वारा तमाम प्रयास किए जा रहे हैं, ताकि लोगों की जान बच सके। पुलिस अधीक्षक मयंक श्रीवास्तव ने ऐसे ही पहल की है, जिससे लोगों की जान बच सके और लोग सड़क हादसों का शिकार ना हो। जी हां, अब सड़क पर बैठे मवेशियों को नगर निगम के अधिकारी कर्मचारी ही नहीं, बल्कि पुलिसकर्मी भी अपने दायित्वों का निर्वहन समझ कर उसे खदेड़ देंगे। यह आदेश कोरबा एसपी ने जिला के समस्त थाना-चौकियों को जारी किया है। थाना चौकी प्रभारी अपने इलाके के सड़क पर बैठे मवेशियों को खदेड़ देंगे, ताकि हादसों पर अंकुश लग सके।
कोतवाली थाना प्रभारी सुखनंदन शर्मा ने बताया कि उच्च अधिकारियों को निर्देश पर सड़क पर बैठे मवेशियों को खदेड़ा जा रहा है, वही मवेशी मालिकों से अपील कर रहे हैं कि वह मवेशी को घर पर रखें और उनकी देख-रेख करें।
एसपी  के इस आदेश से सड़क हादसों पर अंकुश तो जरूर लगेगी, लेकिन इससे नगर निगम की बेपरवाही भी सामने आ रही है। लोगों का कहना है, कि यह एक अच्छी पहल है, लेकिन नगर-निगम के अधिकारी-कर्मचारी की अपनी जिम्‍मेदारी के प्रति गंभीर होते, तो ऐसी नौबत नहीं आती। आवारा मवेशियों को लेकर नगर निगम बेहद गैरजिम्‍मेदार है।
सड़क पर अंधेरा, ऊपर से मवेशियों का जमावड़ा के चलते राहगीर सड़क हादसे का शिकार हो रहे हैं। लोगों की जान तक जा रही है। पुलिस अधीक्षक की यह पहल निश्चित ही कहीं न कहीं सड़क दुर्घटना पर अंकुश लगाएगी, लेकिन इस ओर मवेशी मालिक, निगम के अधिकारी कर्मचारी और आम जनता भी अपना योगदान देंगे, तो इस पहल को और ज्‍यादा सफलता मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.