10 बार लोकसभा सांसद और दो बार राज्यसभा के सांसद रहे वाजपेयी

0
169
रायपुर। अटल बिहारी वाजपेयी 1951 से भारतीय राजनीति का हिस्सा बने। 1955 में पहली बार लोकसभा का चुनाव लड़ने वाले अटल बिहारी बाजपेयी इस चुनाव में हार गए थे। लेकिन साल 1957 में वह सासंद बने। अटल बिहारी वाजपेयी कुल 10 बार लोकसभा के सांसद रहे और इसी दौरान 1962 और 1986 में राज्यसभा के सांसद भी रहे।

अटलजी के दम पर पोखरण में बना इतिहास

हाल में रिलीज हुई फिल्‍म पोखरण एक असल ऐतिहासिक घटना पर आधारित है। कई देशों के विरोध के बावजूद साल 1998 में पोखरण परमाणु परीक्षण करवाने के बाद अटल जी ने दुनिया को बता दिया कि भारत अब किसी से डरने वाला नहीं है। इस परीक्षण का अमेरिका ने जोरदार विरोध किया था लेकिन अटल जी ने किसी एक नहीं सुनी और दुनिया में भारत को एक सशक्‍त देश के रूप में सबित किया।

इंदिरा गांधी को ‘दुर्गा’ बताकर सराहना भी की

साल 1971 में अटल बिहारी वाजपेयी विपक्ष के नेता थे और इंदिरा गांधी देश की प्रधानमंत्री थीं। इसी दौरान अटल बिहारी वाजपेयी ने विपक्ष के नेता के इतर जाते हुए इंदिरा गांधी को ‘दुर्गा’ बता कर उनकी सराहना की थी। वाजपेयी ने यह शब्‍द इंदिरा के लिए उस समय प्रयोग किए जब भारत को पाकिस्‍तान पर 1971 की लड़ाई में एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई थी। इसी के साथ गांधी परिवार में अटल जी का एक अलग स्‍थान था जो राजनैतिक गलियारों से काफी दूर रहा। राजीव गांधी अटल जी के काफी करीब थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.