दुनिया के सबसे छोटे जंक्शन में हुआ ट्रेन पर पथराव बाल-बाल बचे यात्री

0
746
By धीरज शिवहरे
कोरिया। छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश की सीमा से कुछ किलोमीटर पहले बोरीडाँड रेलवे स्टेशन है जिसका नाम रिकार्ड बुक पर सबसे छोटे रेल्वे जंक्शन के नाम पर भी दर्ज है जो की काफी घना पहाडी क्षेत्र भी है आज सुबह जब जबलपुर -अंबिकापुर ट्रेन क्रमांक-11266 इस जंगल से गुजर रही थी तो कुछ असामाजिक तत्वों के द्वारा ट्रेन पर पथराव किया गया जिसमें एक यात्री जो पेशे से वकील नाम उदभट शुक्ला इस हमले में घायल होने से बचे पत्थर बडा होने की वजह से खिडकी में पडकर बिखर गये और बडी अनहोनी होने से बची l
सबसे बडा सवाल यह है कि यात्रियों की सुरक्षा व्यवस्था कितनी सही है आपको बताते हैं अंबिकापुर से अनूपपुर तक चलने वाली सभी एक्सप्रेस व पैसेंजर ट्रेन जो यहाँ से गुजरती हैं जिनमे न ही रेलवे सुरक्षा गार्ड होते हैं और न ही सफाई की सही सुविधा जो की इन पहाडी जंगलो से होकर गुजरने वाले यात्रियों को सुरक्षा दे सकें और आलम यह है कि सफर करने वाले यात्रियों को हर दिन समस्याओं का सामना करना पडता है l

कुछ साल पहले हुए पथराव में यात्री को हुई थी बड़ी हानि

लगभग कुछ वर्ष पूर्व इसी जगह पर एक परिवार दुर्ग -शहडोल ट्रेन पर सफर कर रहा था परिवार के साथ उनका बडा बेटा था जो की खिडकी की सीट पर बैठा था अचानक पुल के नीचे कुछ कुछ लोगो ने ट्रेन पर पथराव किया था जिस घटना से उस यात्री की आँखों में समस्या भी आई l

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.