रायपुर। छत्तीसगढ़ पहुँचने के बाद कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी ने जनता के हित, मोदी और रमन सरकार की नाकामी, और कांग्रेस की योजना पर आधारित अनेक बातें कही। ये, वो 10 बातें हैं, जिन पर राहुल ने ज्यादा जोर दिया। पढ़िए :-
  1. आरएसएस और भाजपा नहीं चाहते कि इस देश की गरीब जनता की आवाज़ सुनी जाए। भाजपा और आरएसएस के लिये महिला का काम खाना बनाना है और कुछ नहीं, इनके लिये दलितों का काम सिर्फ सफाई करने का है, पढ़ने का नहीं. बीजेपी और आरएसएस का यही लक्ष्य है कि महिलाओं, गरीबों, किसानों की आवाज़ को दबाओ और हिन्दुस्तान का धन चंद चुने हुए लोगों को दे दो।
  2. विपक्ष के एक नेता ने कहा कि 40 साल से मैं कांग्रेस पार्टी के खिलाफ लड़ रहा हूं, लेकिन बीजेपी और आरएसएस के सत्ता में आने के बाद मुझे बात समझ में आयी कि कांग्रेस पार्टी किस चीज़ के खिलाफ लड़ रही है। शायद ये पहली बार लोकतांत्रिक देश में हुआ है। डिक्टेटरशिप में जरूर होता है। पाकिस्तान में हुआ, अफ्रीका के अलग-अलग देशों में हुआ। जनरल आ जाता है और प्रेस को, कोर्ट को दबा देता है। मगर हिन्दुस्तान में 70 साल में पहली बार हुआ है।
  3. आपको लग रहा है कि सुप्रीम कोर्ट पर आक्रमण हो रहा है, लेकिन असल में ये आक्रमण सीधा आपके ऊपर हो रहा है। आपके अधिकारों को छीना जा रहा है। आमतौर से जनता न्याय के लिये सुप्रीम कोर्ट जाती है, 70 साल में पहली बार आपने देखा होगा कि सुप्रीम कोर्ट के जज जनता के पास आकर कह रहे हैं कि हमें दबाया जा रहा है, हम अपना काम नहीं कर पा रहे हैं।
  4. आदिवासियों के जल, जमीन और जंगल की रक्षा कांग्रेस पार्टी करेगी और उनके लिये बनाये गये कानूनों की रक्षा भी करेगी। ये लड़ाई हमें मिलकर लड़ना है। आप गांव के स्तर पर लड़ रहे हैं, हम कर्नाटक में, सुप्रीम कोर्ट में लड़ाई लड़ रहे हैं। राहुल ने कहा कि हमारी पूरी कोशिश होगी कि जितनी भी ताकत हो सकती है हम आपको देंगे।
  5. 2019 में कांग्रेस पार्टी की सरकार आने पर हम तीन चीजों पर ध्यान केंद्रित करेंगे – शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार। आज गरीब व्यक्ति अपने बच्चों को पढ़ने के लिये स्कूल नहीं भेज सकता, हम सरकारी स्कूलों, कॉलेजों में जबरदस्त पैसा लगायेंगे।
  6. हमारी सरकार आयेगी तो पूरे हिन्दुस्तान में फूड प्रोसेसिंग का जाल बिछा देंगे ताकि किसान अपना माल सही दाम पर बेच सके। नरेन्द्र मोदी जी सोचते हैं कि हिन्दुस्तान पर किसान एक बोझ है। हम किसान को देश की शक्ति मानते हैं।
  7. रोज़गार के मुद्दे पर मोदी सरकार नाकाम रही है। छत्तीसगढ़ में रोज़गार पैदा नहीं हो रहा है और जो थोड़ा बहुत हो रहा है वो आरएसएस के लोगों को मिलता है।
  8. केवल छत्तीसगढ़ ही नहीं, जहां भी कांग्रेस पार्टी की सरकार होगी वहां हम पंचायती राज प्रतिनिधियों से बातचीत करके काम करेंगे। हमारी पूरी कोशिश होगी कि जितनी भी ताकत हो सकती है हम आपको देंगे।
  9. हरियाणा में ये क्यों कहा गया कि पंचायती राज के लोगों को 8वीं या 10वीं पास होना चाहिए? ये प्रधानमंत्री, सांसद या विधायकों के लिये क्यों नहीं कहा गया?
  10. रोज़गार के मुद्दे पर मोदी सरकार नाकाम रही है। छत्तीसगढ़ में रोज़गार पैदा नहीं हो रहा है और जो थोड़ा बहुत हो रहा है वो आरएसएस के लोगों को मिलता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.